“सकारात्मक पत्रकारिता – वर्तमान समय की जरूरत” 

“सकारात्मक पत्रकारिता  वर्तमान समय की जरूरत” विषय पर उतराखंड के कई सेवास्थानों पर मीडिया डायलोग के कार्यक्रम रखे गये! जिसमें बतौर मुख्य वक्ता प्रो. कमल दीक्षित पत्रकारिता के पूर्व विभागाध्यक्ष माखनलाल चतुर्वेदी विश्वविद्यालय, भोपाल ने अपने विचार व्यक्त किये ! समाज के व्यवहार व सोच को सबसे ज्यादा मीडिया ही प्रभावित करता है। आज भी पत्रकारिता समाज को बदलने की ताकत रखता है। सकारात्मक पत्रकारिता समय की आवश्यकता है। यदि मीडिया समाज की अच्छाई को ज्यादा से ज्यादा प्रसारित करे तो निश्चित तौर पर समाज में सकारात्मक परिवर्तन आएगा।

इसके साथ साथ दैवी भ्राता सुशांत, राष्ट्रीय संयोजक, मीडिया प्रभाग, दिल्ली और दैवी भ्राता कर्मचंद जी, कोर्डिनेटर, मीडिया प्रभाग, पंजाब जोन, मोहाली ने भी अपने विचार व्यक्त किये!ब्रह्माकुमारी उषा बहन ने मैडिटेशन कराया! डायलोग का संचालन ब्रह्माकुमारी सरिता ने किया!